Stories Inspirational Story in Hindi Moral Stories in Hindi Moral Stories in Hindi Short Motivational Story in Hindi

डरपोक पत्थर | Sneaky stone I Motivational Story in Hindi

डरपोक पत्थर | Sneaky stone I Motivational Story in Hindi

एक गांव था वहां एक मूर्ति का रहता था एक बार मूर्ति बनाने के लिए उसे कुछ पत्थरों ( Sneaky stone)की आवश्यक्ता थी तो वह जंगल की ओर जाता है वह जंगल में इधर उधर पत्थर की तलाश करता है तो उसे एक पत्थर दिखाई देता है जो मूर्ति बनाने के लिए एकदम सही था वह उस पत्थर को उठा के अपनी गाड़ी में रख लेता है कुछ दूर जाने पर उसे एक और पत्थर दिखाई देता है और वह उसे भी उठाकर अपनी गाड़ी में रख लेता है और अपने गांव की ओर चल देता है

🔥 Motivational Story in Hindi – Overthinking

 

जब वह चोट मारने लगता है तब ही उस पत्थर में से आवाज आती है रुको रुको कृपा करके रुको बूटी कार्य इधर उधर बिकता है उसे समझ नहीं आता कि अब्बास कहां से रही है रुको रुको कृपा करके मुझ पे हथौड़ा मत चलाओ मुझे हथौड़े की मार से बहुत डर लगता है अगर तुम मुझ पर हथौड़ा चलाओगे तो मैं टूट जाऊँगा बिखर जाऊँगा कृपा करके मुझे छोड़ दो और किसी और पत्थर से मूर्ति बना लो उसे उस पत्थर पर दया जाती है और वह उस पत्थर को छोड कर दूसरा पत्थर उठा लेता है ये पत्थर बढ़िया लग रहा है इससे मूर्ति बनाता हूं यही सोच कर वह पत्थर पर जोर जोर से चोट करना शुरू करता है और इस बार पत्थर से कोई आवाज भी नहीं आती है और कुछ ही देर में मूर्ति बनकर तैयार हो जाती है

कुछ दिनों के बाद गांव के मंदिर में मूर्ति की स्थापना का दिन आता है कुछ गांव वाले मूर्तिकार के घर जाते हैं और बोलते हैं अरे भैया मोहन क्या तुमने मूर्ति बना दी मंदिर में स्थापना के लिए हां वो तो मैंने दो दिन पहले ही बना ली थी मैं तो आप लोगों का ही इंतजार कर रहा था अरे ये तो बहुत अच्छी बात है मोहन चलो हम सब ये मूर्ति उठाकर उस मंदिर में स्थापना के लिए चलते हैं

Motivational Story in Hindi – जितने अच्छे विचार होंगे, जीत उतनी ही शानदार होगी

अरे भाई रुको रुको मूर्ति के आगे एक पत्थर और भी तो रखना पड़ेगा जिसमें लोग नारियल फोड़ सकें वह व्यक्ति इधर उधर देखता है ताकि उसे कोई पत्थर मिल सके तभी उसकी नजर उस पत्थर पर पड़ती है जिसे मूर्तिकार में छोड़ दिया था और वह व्यक्ति उस पत्थर को उठा लेता है ये पत्थर बढ़िया लग रहा है और मजबूत भी है जब इसकी ऊपर लोग नारियल फोड़ देंगे तो झट से नारियल फूट जाएगा और सब गांव वाले मंदिर की ओर चल देते

डरपोक पत्थर | Sneaky stone I Motivational Story in Hindi

तभी उस पत्थर में से जोर जोर से आवाज आती है अरे रुको रुको मूर्ख लोगों मुझे कहां ले जा रहे हो ये भगवान मुझे बचाओ मुझे तो कहीं नहीं जाना मुझे तो कठिन परिस्थितियों से बहुत डर लगता है मैं इनका सामना कभी नहीं कर सकता हे भगवान मुझे बचाओ आज तो मैं मर ही गया हे भगवान मुझे बचाओ बचाओ बचाओ रास्ते भर वह पत्थर बहुत जोर जोर से चिल्लाता है तभी सब गांववाले वाले मंदिर पहुंच जाते हैं और मूर्ति की स्थापना कर देते हैं और उस पत्थर को उसके आगे रखते हैं फिर सब लोग उस मूर्ति की पूजा करना शुरू कर देते हैं मूर्ति बना हुआ पत्थर इससे बहुत खुश हो जाता है लोग उस पत्थर को दूध से स्नान करवाते हैं उसे चंदन का लेप लगाते हैं और उसके ऊपर फूल चढ़ाते हैं

यह सब देख कर दूसरा पत्थर मूर्ति बने हुए पत्थर से बोलता है अरे भाई तुम्हारे तो बहुत मजे हैं लोग तुम्हें तो दूध से स्नान करवा रही हैं तुम्हारी पूजा कर रहे हैं तुम्हारे ऊपर फूलों की बारिश कर रही है तुम्हारी ज़िन्दगी तो बढ़िया है तभी एक व्यक्ति उस पत्थर पर खजूर से नारियल फूटता है अरे मर गया हाय मैं तो मर गया हाय मेरी कमर तोड़ टूट ही गए हे भगवान मुझे बचाओ अरे मूर्ख व्यक्ति मेरे ऊपर नारियल फोड़ रहा है भगवान को नारियल चढ़ाने का इतना ही शौक है तो अपने सर से क्यों नहीं तोड़ लेता तू नारियल तभी एक और  व्यक्ति उस पत्थर पर नारियल फूटता है हाय हाय मर गया आज तो मेरी शामत ही गई हे भगवान मुझे कहां फंसा दिया आज आप मैं तो जंगल में पेड़ की छांव के नीचे मजे से आराम कर रहा था आपने मुझे कहां फंसा दिया हाय हाय मैं तो मर गया ये  सारे मूर्ख व्यक्ति मेरे ऊपर बारी बारी से नारियल फोड़ फोड़कर मुझे मार ही डालेंगे

Top 5 Best Motivational Story in Hindi – ये कहानियाँ आपको सफल बना सकती है

 

यह सब देख कर मूर्ति बना पत्थर उस पर जोर जोर से हंसता है हा हा हा हा हा हा हा तुम तो बहुत खुश होगी तुम्हारी सेवा जो हो रही है तुम्हें तो मिठाइयां खाने को मिल रही है और यहां तो मेरी कमर की हालत बिगाड़ भी इंसानों ने हाय हाय बहुत दर्द हो रहा है कोई मलहम ही लगा दो तब मूर्ति बना हुआ पत्थर उस दूसरे पत्थर से बोलता है दोस्त तुमने भी अगर उस दिन पहला प्रहार सह लिया होता तो आज तुम मेरी जगह होते और लोग तुम्हारी भी पूजा कर रहे होते । तुम्हें भी दूध मक्खन से स्नान करवा रही होते। तुम्हारी  भी पूजा हो रही होती लेकिन तुम उस दिन डर गए । तुम ने उस दिन आसान रास्ता चुना और आज तुम्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है । हम जब भी किसी परिस्थिति से डर की कोई भी आसान रास्ता चुनते हैं तो उस वक्त तो हमें बहुत सकून और आराम मिलता है । पल भर के लिए खुशी भी मिल जाती है किन्तु आगे की राह और भी ज्यादा कठिन हो जाती है मेरे दोस्त ।

तब उस पत्थर को अपनी भूल का अहसास होता है और वह मूर्ति बने पत्थर से बोलता है पत्थर मुझसे गलती हो गई मैं समझ चुका हूं जो लोग मुश्किल परिस्थितियों से नहीं घबराते और उनका सामना करते हैं लोग उन्हीं को सम्मान देते हैं और उन्हीं की पूजा करते हैं आप में उस हथौड़े की चोट सही कठिन परिस्थितियों का सामना किया इसीलिए लोग आज आपकी पूजा अर्चना कर रहे हैं आप अवश्य ही ईश्वर है भगवान मैं आपकी शरण में आना चाहता हूं मुझे आप अपनी शरण में ले लीजिए मुझे अपनी गलती का अहसास हो चुका है मैं अब किसी भी कठिन परिस्थिति से नहीं घबराने लगा भगवान मुझे शक्ति वे भगवान तभी मूर्ति में से आवाज आती है जो व्यक्ति जिन्दगी में मेहनत करता है सही रास्ते पर चलता है और कठिन परिस्थितियों से नहीं घबराता और दृढ़ता से उसका सामना करता है मैं हमेशा उसके साथ रहता हूं

तब एक व्यक्ति उस पत्थर पर जोर से नारियल फूटता है इस बार वह पत्थर अपनी आंखे बंद करके जय श्रीराम जय श्रीराम जय श्रीराम बोलता है और नारियल फूट जाता है जब वहां पत्थर अपनी आँखें खोलता है और देखता है कि नारियल तो फूट गया और इस बार उसे बिल्कुल भी दर्द नहीं हुआ तो वह भगवान का शुक्रिया अदा करता है और भगवान को वचन देता है हे भगवान मैं आगे से कभी भी किसी कठिन परिस्थितियों से नहीं भाग लूंगा बस आप हमेशा मेरे साथ रहिएगा नारियल फूटने की वजह से नारियल का पानी उस पत्थर को भी पीने को मिल जाता है और लोग भगवान को भोग लगाने के बाद मिठाई को भी उस पत्थर पर रख देते हैं जिससे उस पत्थर को मिठाई खाने को भी मिल जाता है तब भगवान उसी बोलते हैं देखा तुमने आज मुश्किलों का सामना किया तो उसका फल भी तुम्हें मिलने लगा है है ना हां भगवान आप सही बोल रहे हो

इस Motivational Story से  हमको  यह सीख  मिलती है कि  कठिन वक्त सबकी ज़िन्दगी में आता है । आज नहीं तो कल जरूर आएगा लेकिन उस कठिन वक्त का सामना करने के लिए क्या आप तैयार हैं । अपनी ज़िन्दगी का मज़ा जरूर लीजिए लेकिन पहले आगे आनेवाले कठिन दिनों की तैयारी करने के बाद क्योंकि जब कठिन वक्त आता है तो फिर आपको मौका नहीं मिलेगा एक बार सोचेगा जरूर ।

अक्सर चुनौतियों से संघर्षों से हम डरते हैं लेकिन संघर्ष ही तो है जो हमें और अधिक मजबूत करते हैं और जिंदगी की कठिनाइयों से लड़ने की हिम्मत देते हैं और हमें सक्षम बनाते हैं कुछ भी कर पाने के और कुछ भी कर गुजरने के इसलिए जिन्दगी में कभी भी कोई चुनौती आई तो उसे घबराइये मत बल्कि हंसकर उसका सामना कीजिए ये कहानी कहीं ना कहीं अगर आपके दिल को छुए तो प्लीज़ आपने  दोस्तों  के  साथ शेयर ज़रूर कीजिएगा 

डरपोक पत्थर | Sneaky stone I Motivational Story in Hindi

About the author

admin

Leave a Comment

Enable Notifications.    Ok No thanks